thumb

धरती पर बने सबसे रहस्यमयी गड्ढे

आज हम आपको दुनियाभर के कुछ विचित्र और अनोखे गड्ढों के बारे में बताएंगे, इनमें से कुछ गड्ढे इंसानों ने बनाए हैं तो कुछ प्राकृतिक तौर पर बने हैं पर सभी से जुड़ी कहानी बेहद दिलचस्प है !

 

1. साइबेरिया में बना रहस्य में गड्ढा
siberia
साइबेरिया के यमल नामक इलाके में अचानक ही एक दिन 200 फीट गहरा गड्ढा देखा गया ! यह गड्ढा कैसे बना किसी को नहीं पता था लेकिन आज यह जगह अपने इसी रहस्यमई गड्ढे के कारण मशहूर हो चुकी है ! एक दिन रेंडियस के चरवाहों ने अचानक बन गए इस गहरे गड्ढे को देखा और वो डर गए !
लेकिन वहां अकेला ऐसा गड्ढा ही नहीं देखा गया बल्कि ऐसे कई और गड्ढे भी देखे गए और जब इनकी जांच की गई तो पाया कि यहां विस्फोट हुआ था जिस कारण मिट्टी और चट्टानों के टुकड़े यहां से निकलकर दूर जा गिरे थे और इन्हीं कारण यहां यह गड्ढे हुए हैं ! लेकिन इस घटना की पुष्टि पूरी तरीके से नहीं की जा सकती क्योंकि कुछ लोगों का कहना था कि यह गड्ढे आसमान से किसी उल्का पिंड के गिरने के कारण हो गए हैं तो कुछ का कहना था कि यहां यह गड्ढे किसी भूकंप के की वजह से हुए हैं ! लेकिन आश्चर्य वाली बात यह थी कि ना तो यहां कोई भूकंप आया था और ना ही कोई उल्का पिंड गिरा था !
इन गड्ढों की जांच करने के लिए रूसी वैज्ञानिकों की एक टीम इस गड्ढे के अंदर उतरी और उन्होंने नीचे जाकर पाया की नीचे की दीवारें गीली है और वहां थोड़ी बर्फ जमी है ! ऊपर से इन गड्ढों को देखने पर पता चलता है कि इस गड्ढे के चारों तरफ मिट्टी जमा है इससे यह माना गया कि यह गड्ढे धरती में हुए किसी विस्फोट की वजह से हुए हैं ! लेकिन पुख्ता तौर पर कोई नहीं बता पाया कि इन गड्ढों के होने की हकीकत क्या है और यह आज भी रहस्य ही बना हुआ है !

 

2. KTB Superdeep Borehole
ktb-borehole
यह बात है सितंबर 1990 की जब दक्षिणी जर्मनी में कुछ वैज्ञानिकों की टीम ने धरती में एक गहरा होल बनाने की शुरुआत की और इसके पीछे वैज्ञानिकों की सोच यह थी कि इस गड्ढे के जरिए धरती की कोर तक पहुंचा जाए !
KTB Superdeep Borehole नाम से शुरू किए गए इस प्रोजेक्ट में वैज्ञानिक ड्रिलिंग मशीन के जरिए धरती में करीब 6 मील गहरा गड्ढा बनाने में कामयाब हुए ! हालांकि वैज्ञानिकों को इतनी गहराई तक पहुंचने में धरती की गहराई में मौजूद टेक्टोनिक प्लेट्स और उबलते हाइड्रोजन से होकर गुजरना पड़ा और धरती के अंदर का तापमान भी करीब 315 डिग्री सेल्सियस था लेकिन इस कारण वैज्ञानिक धरती के अंदर के कई राज पता कर पाने में कामयाब रहे !
इतना गहरा गड्ढा बनाते समय वैज्ञानिकों ने एक ऐसी चट्टान को छुआ जो करीब ढाई अरब साल पुरानी थी ! इसके अलावा उन्होंने धरती की कोर से कई अजीबोगरीब आवाजे भी रिकॉर्ड की, वैज्ञानिकों के अनुसार यह आवाज धरती की कोर से आने वाली सबसे नजदीकी आवाज थी ! हालाँकि वैज्ञानिकों को आगे इस काम को रोकना पड़ा क्योंकि उन्हें पूरी फंडिंग नहीं हो पाई थी और इसी कारण वह धरती की कोर तक पहुंचने में नाकामयाब रहे !

 

3. इंडियाना नेशनल पार्क में बने रहस्यमयी गड्ढे
indiana-national-park
ये 2013 की बात है जब इंडियाना नेशनल पार्क में एक 6 साल का बच्चा घूमता हुआ अचानक से बने एक रेत के गड्ढे में धंस गया ! जिसे 3 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद रेत में करीब 11 फीट नीचे से निकाला गया ! चौंकाने वाली बात ये थी की यह गड्ढा अकेला नहीं था इस पार्क में ऐसे और भी कई गड्ढे देखे गए ! इस घटना से वैज्ञानिक भी हैरान थे क्योंकि उन्हें भी समझ नहीं आ रहा था की ये गड्ढे अचानक कैसे बने !
ग्राउंड पेनटेट्रिंग रेडार द्वारा भी इन गड्ढों का राज जाने की कोशिश की गई लेकिंग इससे भी इन गड्ढों के होने के पीछे का कोई राज पता नहीं चल पाया ! यह गड्ढे रहस्यमई तरीके से बनते थे और एक दिन बाद में खुद ही भर जाते थे ! धीरे-धीरे ऐसे गड्ढों की संख्या काफी बढ़ने लगी जिस कारण इस जगह को प्रतिबंधित कर दिया गया और तभी से यह गड्ढे इतिहास के रहस्यमई गड्ढों की लिस्ट में शुमार हो गए !

 

4. चांद बावड़ी राजस्थान
chand-bawri
राजस्थान की यह चांद बावड़ी राजा मिहिरभोज द्वारा 19वीं शताब्दी में बनवाई गई थी जो चारो तरफ से करीब 35 मीटर चौड़ी है और इसमें ऊपर से नीचे तक सीढ़ियां बनी हुई है ! ऐसा कहा जाता है कि यह बावड़ी सिर्फ 1 दिन में तैयार की गई थी ! यह बावड़ी करीब 13 मंजिला है और यह 100 फीट से भी ज्यादा गहरी है जिसमें करीब 3500 सीढ़ियां है और यह सीढ़ियां किसी भूलभुलैया से कम नहीं है ! यह बावड़ी अंधेरे उजाले की बावड़ी के नाम से भी मशहूर है ! इस बावड़ी में कई गुप्त कमरे और सुरंगे बनी है, इस बावड़ी की सबसे खास बात यह है कि एक रास्ते से उतरने वाली सीढ़ी से कोई व्यक्ति उसी सीढ़ी से वापस ऊपर नहीं जा सकता ! चांद बावड़ी में कई हॉलीवुड फिल्मों की भी शूटिंग की जा चुकी है !

 

5. Oak island, mystery hole
oak-island
ओक आइलैंड एक ऐसा टापू है जो अब तक की सबसे बड़ी खजाने की खोज वाली जगह रही है ! ओक आइलैंड महज 140 एकड़ में फैला है ! माना जाता है यहां भारी खजाना दबा है और इसी कारण यहां कई खोजी दल पहुंच चुके हैं ! इस टापू में सबसे पहले 1795 में खजाने की शुरुआत की गई थी जब डेनियल मेकिंग्स नाम के 18 साल के एक नौजवान ने इस टापू से आती एक रोशनी को देखा ! यहां उसने देखा कि टापू का एक हिस्सा अचानक ही साफ हो गया था जो मैदानी दिख रहा था ! डेनियल ने पाया कि इस मैदानी जगह के बीचोबीच एक गहरा और अंधेरा गड्ढा बना है जिसके पास एक पुरानी घिर्री और एक रस्सी लटकी हुई है !

इसके बाद डेनियल अपने दो दोस्तों के साथ फिर से इस जगह का मुआयना करने आया और इन तीनो दोस्तों ने इस रहस्यमयी गड्ढे की खुदाई शुरू की ! खुदाई करते करते जब वह कुछ फिट गहराई में पहुंचे तो उन्हें एक पत्थर की दीवार मिलने लगी जिस पर पहले की खुदाई के कुछ निशान भी मौजूद थे ! करीब 10 फीट खुदाई करने के बाद इन्हें पेड़ों के लट्ठे की एक परत भी मिली इसके बाद करीब 30 फीट गहराई तक खोदने के बाद तीनों दोस्त काफी थक गए और इन्होंने अपनी इस खुदाई को वही छोड़ दिया ! इसके बाद यहां कई और गहरी खुदाई होने लगी ! इस जगह की ऐसी मान्यता है कि यहां एक रहस्यमई और शापित खजाना मौजूद है जिसका दरवाजा इस रहस्यमई गड्ढे से ही खुलता है ! तभी से आज तक इस गड्ढे कर राज जानने की कोशिश जारी है लेकिन ना तो आज तक यह खजाना किसी को मिला और ना ही इसका राज कोई जान पाया है !

 

6. Mir mine hole Russia
mir-mine-hole
मीर माइन का यह गड्ढा पूर्वी साइबेरिया में स्थित है जो डायमंड सिटी के नाम से भी मशहूर है ! यह गड्ढा दुनिया का सबसे कीमती और खतरनाक गड्ढा माना जाता है जिसकी कीमत अरबों रुपए है ! असल में दुनिया के सबसे खतरनाक गड्ढों में से एक यह गड्ढा एक रूसी कंपनी अल्ड्रोसा की एक खदान है जिसकी कीमत है करीब 1133 अरब रुपए !
यह खदान करीब 1722 फीट गहरी है जिसका घेरा करीब 3 किलोमीटर का है ! यह गड्ढा दुनिया का सबसे खतरनाक गड्ढा इसलिए भी माना जाता है क्योंकि यह गड्ढा इसके ऊपर से गुजरने वाले हेलीकॉप्टर को भी अपनी तरफ खींच लेता है !
यह खदान इतनी कीमती इसलिए है क्योंकि यहां प्रतिवर्ष लगभग 20 मिलियन पौंड कीमत वाले औसतन 2 कैरेट के हीरे निकलते हैं ! इस गड्डे की आस-पास की खदानों से दुनिया के रफ डायमंड के करीब 23% हीरे निकलते हैं ! इन्ही खदानों की बदौलत सोवियत रूस आज दुनिया की सुपर पावर बन गया है ! 2014 में इस खदान से करीब 6 मिलियन कैरेट रफ डायमंड निकाले गए थे ! आपको जानकर आश्चर्य होगा की रुसी कंपनी अल्ड्रोसा दुनिया में कुल उत्पन्न हीरो की चौथाई संख्या उत्पादित करती है !

 
धरती पर बने सबसे रहस्यमयी गड्ढे – देखें वीडियो
और हमारा यूट्यूब चैनल SUBSCRIBE करना ना भूलें

 
 

All images taken from Google

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *